0
Advertisement

हमारे विद्यालय के प्रधानाचार्य
Essay on Your School Principal 


जैसा प्रधानाचार्य वैसा ही विद्यालय एक पुरानी कहावत है .यह सत्य है कि विद्यालय की प्रगति उसके प्रधानाचार्य पर निर्भर होती है .हमारे विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री रजनीश सिंह हमेशा विद्यालय के हित में ही सोचते हैं .उनका भव्य व्यक्तित्व सभी को आकर्षित और मुग्ध कर लेता है . 
प्रधानाचार्य
प्रधानाचार्य

स्वभाव और व्यक्तित्व - 

वे स्वतंत्र विचार वाले दयालु ,मृदुभाषी और सज्जन व्यक्ति है .वे अपने सहायकों और विद्यालय के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की सहायता के लिए हर प्रकार से हमेशा तत्पर रहते हैं .अध्यापकों के साथ उनका व्यवहार बहुत अच्छा है .वे वरिष्ठ अध्यापकों का बहुत सम्मान करते हैं . 

योग्यता और अध्यापन शैली - 

वे अंग्रेजी में एम्. ए हैं .वे बिगत २५ वर्षों से उच्च माध्यमिक कक्षाओं को अंग्रेजी पढ़ा रहे हैं .उनका अपने विषय पर अधिकार है .उन्होंने अध्यापक के रूप में ख्याति अर्जित की है .उनके अध्यापन का ढंग इतना सरल और आकर्षक है कि प्रत्येक छात्र उनकी बात तत्काल समझ जाता है . 

प्रशासन और अनुशासन - 

वे सिद्धांत के पक्के और बड़े अनुशासक है .वे अपने सहायकों से काम लेना जानते हैं .वे उनकी आदतों और प्रकृति से परिचित रहते हैं .यही कारण है कि वे एक सफल प्रशासक हैं .वे हमेशा विद्यालय में अनुशासन बनाये रखने का भरसक प्रयास करते हैं .वे उपद्रवी विद्यार्थियों को दण्डित करते हैं . 

लोकप्रिय व्यक्ति - 

नगर का प्रत्येक व्यक्ति उनकी प्रशंसा करता है और उनका बहुत मान सम्मान करता है .अपनी ईमानदारी ,सहृदयता और कठिन परिश्रम के कारण उनकी बहुत प्रतिष्ठा है .मैं उनके प्रति ,स्नेह और आदर का भाव रखता हूँ . 



एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top