0
Advertisement

टेलीविजन पर प्रसारित अंधविश्वास व तंत्र मंत्र कार्यक्रम पर रोक के लिए पत्र 
Letter to stop the superstition and tantra program on television



सेवा में , 
सूचना एवं प्रसारण मंत्री ,
भारत सरकार ,
नयी दिल्ली .

विषय - टेलीविजन पर प्रसारित अंधविश्वास व तंत्र मन्त्र कार्यक्रम पर रोक 

महोदय , 
आपसे सविनय निवेदन है कि इस समय टेलीविजन जो की मनोरंजन व सूचना का महत्वपूर्ण साधन है ,उस पर हर समय राष्ट्रीय चैनल पर अंधविश्वास व भूत प्रेत से सम्बंधित कार्यक्रम दिखाए जा रहे हैं .न्यूज़ चैनलों पर तथाकथित ओझा व तांत्रिक अपनी राय बताते मिल जायेंगे .आजकल अंधविश्वास से प्रेरित कार्यक्रम बनाये जा रहे हैं ,जिनसे गृहणियाँ देखकर अन्धविश्वासी हो रही हैं ,साथ ही  भारत की भोली भली जनता प्रभावित हो रही है .अपनी हर प्रकार की आर्थिक ,शारीरिक ,सामाजिक व व्यक्तिगत समस्यों का निदान इन्ही ढोंगी बाबाओं में खोज रही है ,जिनका एक मात्र लक्ष्य भोलीभाली जनता को लूटना है .

महोदय , आज २१वीं सदी का समय है ,इसमें वैज्ञानिक सोच को बढ़ावा देना चाहिए .भारत के संविधान में ही लिखा गया है कि वैज्ञानिक दृष्टिकोण मानवतावाद व ज्ञानार्जन तथा सुधार की भावना का विकास करें ।अतः ऐसी स्थिति में भूत प्रेत व तांत्रिक गतिविधियों को टेलीविजन पर देखकर जनता दिग्भ्रमित हो रही है .

अतः महोदय , आपसे निवेदन है कि टेलीविजन पर आने वाले ऐसी अवैज्ञानिक कार्यक्रमों  पर तुरंत रोक लगाये जिससे जनता में वैज्ञानिक दृष्टिकोण का विकास हो सके . 

सधन्यवाद
भवदीय 
रजनीश कुमार 
विकासनगर ,लखनऊ 
दिनांकः २५/१२/२०१८ 


एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top