0
Advertisement

भारत में पर्यटन व्यवसाय
Essay on Tourism Business in India in Hindi

भारत का इतिहास अत्यंत प्राचीन और विविधरंगी है . इसका भौगोलिक विस्तार इसे विश्व के सबसे बड़े देशों में से एक बना देता है . इसकी सभ्यता अत्यंत प्राचीन है और यहाँ के लोगों में अनेक विविध्धएं पायी जाति हैं . यहाँ
भारत में पर्यटन व्यवसाय
भारत में पर्यटन व्यवसाय
प्रत्येक क्षेत्र की अपनी अनूठी संस्कृति है . इसी कारण से यह पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बन गया है और भारत में पर्यटन उद्योग तेज़ी से फल फूल रहा हैं .

गौरवशाली अतीत - 

भारत के लगभग प्रत्येक हिस्से में ऐतिहासिक स्मारक है जो इसके गौरवशाली अतीत की झलक प्रस्तुत करते हैं . मुगलों की वास्तुकला उनके द्वारा बनवाये गए सुन्दर मकबरों ,मस्जिदों और किलों में उनकी महानता की कहानी को बयान करती हैं .राजस्थान जहाँ किसी समय राजपूतों का राज था ,पर्यटन के अनेक आकर्षण स्थानों से परिपूर्ण है जो राणा प्रताप जैसे महान राजाओं तथा रानी पद्मिनी जैसी वीरांगना की बहादुरी और साहस की गाथा पेश करते हैं .

भारतीय संस्कृति की बानगी - 

दक्षिण के हिन्दू राजा महान मंदिर निर्माता भी थे .दक्षिण भारत के मंदिर उनके महान इतिहास की कहानी को बयान करते हैं . भारत के सभी ऐतिहासिक स्मारक विविध प्रकार की वास्तुकला ,चित्रकारी और स्थापत्यकला से युक्त हैं और अपने निर्माणकर्ता राजाओं की संस्कृति की बानगी पेश करते हैं . 
यह कहानी का केवल एक पक्ष है . लोक नृत्य ,गीत ,मेले आदि भी पर्यटकों को आकर्षित करते हैं . देश - विदेश से आने वाले पर्यटक अपनी यात्रा के कार्यक्रम इस प्रकार बनाते हैं ताकि वे राजस्थान का पुष्कर मेला तथा खजुराहों मंदिर में होने वाले नृत्य महोत्सव में उपस्थित हो सकें . 

आय का महत्वपूर्ण स्रोत - 

पर्यटन राष्ट्रीय आय का एक महत्वपूर्ण स्रोत भी हैं . पर्यटन के लिए अच्छी सुविधाएँ उपलब्ध करायी जानि चाहिए और उन्हें अच्छी इस्थ्ती में बनाये रखना चाहिए . इसके साथ ही राजमार्गों और मुख्य सड़कों के किनारे सराय/ढाबे और रेस्ट हाउस बने होने चाहिए जहाँ पर्यटक सड़क मार्ग से लम्बी यात्रा करते समय भोजन आदि ले सके और विश्राम कर तरोताज़ा हो सकें .सुशिक्षित गाईडों की आवश्कता है जो पर्यटकों का मार्गदर्शक कर सकें और पर्यटन महत्व के सभी स्थानों के इतिहास और महत्व का सही ढंग से वर्णन कर सकें . अनेकों सुन्दर स्थान आदि होने के कारण भारत में पर्यटन लगातार विकास कर रहा हैं . 


एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top