23
Advertisement
सर्वनाम :- संज्ञा के स्थान पर जिन शब्दों का प्रयोग किया जाता है, उन्हें सर्वनाम कहते है
जैसे :-
1.रीता ने गीता से कहा ,मै तुम्हे पुस्तक दूँगी।
२.सीता ने रीता से कहा ,मै बाज़ार जाती हूँ।
इन वाक्यों में मै , तुम्हे शब्द संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होते है। अतः ये सभी सर्वनाम है।

सर्वनाम के भेद :- सर्वनाम के मुख्य छः भेद होते है - १.पुरुषवाचक सर्वनाम २.निश्चयवाचक सर्वनाम ३.अनिश्चयवाचक सर्वनाम ४.सम्बन्धवाचक सर्वनाम ५.प्रश्नवाचक सर्वनाम ६.निजवाचक सर्वनाम

१.पुरुषवाचक सर्वनाम :- जो सर्वनाम शब्द बोलने वाला अपने लिए, सुनने वाले के लिए या किसी अन्य के लिए प्रयोग करता है, उसे पुरुषवाचक सर्वनाम कहते है। जैसे - मै,हम,तुम आदि।
पुरुषवाचक सर्वनाम तीन प्रकार से प्रयोग किया जाता है :-
1.उत्तम पुरूष :- जिन सर्वनाम शब्दों का प्रयोग तीनो पुरूष उत्तम,मध्यम एवं अन्य के लिए होता है, यानी व्यक्ति के नाम के बदले आने वाले सर्वनाम को पुरुषवाचक सर्वनाम कहते है। जैसे :- १.मै काम कर रहा हूँ। २.हम सब घुमने जायेंगे ।
२.मध्यम पुरूष :- जिस सर्वनाम का प्रयोग सुनने वाले के लिए किया जाता है,उसे मध्यम पुरूष कहते है। जैसे - तुम कहाँ जा रहे हो ? तुम सब क्या लिख रहे हो ?


३.अन्य पुरूष :- जिसके विषय में बात की जाय ,वे सभी शब्द अन्य पुरूष में होते है। जैसे -वह चालाक है, वह पागल है।

२.निश्चयवाचक सर्वनाम :- जो सर्वनाम किसी निश्चित वस्तु या व्यक्ति की ओर संकेत करते है, वे निश्चयवाचक सर्वनाम कहलाते है। जैसे- १.वह मेरा गाँव है। २.यह मेरी पुस्तक है।

३.अनिश्चयवाचक सर्वनाम :-जिन सर्वनाम शब्दों से किसी प्राणी या वस्तु का बोध न हो ,वे अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहलाते है। जैसे - १.कोई व्यक्ति इधर ही आ रहा है। २.कुछ सेब मेरी टोकरी में है।

४.सम्बन्धवाचक सर्वनाम :- जिस सर्वनाम से दो पदों के बीच का सम्बन्ध जाना जाता है। उसे सम्बन्धवाचक सर्वनाम कहते है। जैसे- १.जैसी करनी, वैसी भरनी २.जैसा राजा,वैसी प्रजा

५.प्रश्नवाचक सर्वनाम :-जिस सर्वनाम का प्रयोग प्रश्न पूछने के लिए किया जाता है,उसे प्रश्नवाचक सर्वनाम कहते है। जैसे :- १.आज कौन आया है ? २.तुम किसको पत्र लिख रहे हो ?

६.निजवाचक सर्वनाम :- जिस सर्वनाम का प्रयोग वाक्य में कर्ता के लिए होता है,उसे निजवाचक सर्वनाम कहते है। जैसे - १.हमें अपना काम अपने आप करना चाहिए । २.तुम अपना काम स्वयं करो ।

एक टिप्पणी भेजें

  1. अच्छा कार्य कर रहे हैं, जारी रहिये. साधुवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  2. BAHUT ACHCHHA KARY KAR RAHE HO.
    EK -EK ABHYAS BHI SANLANGIT KARE TO ACHCHA LAGEGA
    RAMESH SACHDEVA
    hpsshergarh@gmail.com

    उत्तर देंहटाएं
  3. नजरे इनायत करने के लिये धन्यवाद ।
    जानकारी के लिये आभार
    pleas visit my blog

    my new post
    http://photographyimage.blogspot.com/2009/07/blog-post_25.html

    उत्तर देंहटाएं
  4. अरे वाह, अच्‍छा लगा इस जानकारी को पढकर।

    आभार।

    -Zakir Ali ‘Rajnish’
    { Secretary-TSALIIM & SBAI }

    उत्तर देंहटाएं
  5. भाई आपका ब्लाग हिन्दी की सेवा है. प्रयास को साधुवाद.

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत अच्छा ब्लाग है। हिन्दी को ऐसे ब्लाग की ज़रूरत है।
    बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  7. hame teaching me help milta hai


    ghanshyam giriya

    K.V.DDJ

    उत्तर देंहटाएं
  8. पुरुषवाचक सर्वनाम और निश्चयवाचक सर्वनाम में क्या अंतर है?

    उत्तर देंहटाएं
  9. mujhe copy karna hai presentation ke liye

    उत्तर देंहटाएं
  10. क्या "सभी" एक सर्वनाम शब्द है?

    उत्तर देंहटाएं
  11. Bahut badhiya.. Lage raho. Isme bhi paisa hai..

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top