0
Advertisement

एक मेले का वर्णन पर निबंध  
Essay on Visiting a Fair in Hindi


मेले हमारे देश का जीवन रहे हैं . भारत के विभिन्न भागों में अनेक मेले लगते हैं . उनमें से कुछ मेले धार्मिक होते हैं और कुछ राष्ट्रीय होते हैं . नौचंदी का मेला ,उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख मेला है .यह एक धार्मिक और ऐतिहासिक मेला है . 

मेला का स्थान  व समय - 

मेला
मेला
नौचंदी का मेला प्रतिवर्ष मेरठ में लगता है .यह एक बड़े मैदान में लगता है जो नौचंदी मैदान कहलाता है .यह हापुड़ मार्ग में स्थित है .यह मेला होली के त्यौहार के बाद लगता है .यह होली के बाद आने वाले दूसरे रविवार से शुरू होता है .यह एक महीने तक चलता है . 

मेला का वर्णन - 

रविवार को मैंने अपने मित्रों के साथ मेला देखने जाने का निश्चय किया .हमने एक रिक्सा किराये पर ली तथा मेले में रात ९ बजे जा पहुंचे . वहां दुकानों की लम्बी कतारें लगी थी .दो कतारें के बीच दोनों ओर रास्ता तथा फूलों की क्यारियां थी .दुकानें चकाचौंध रोशनी में सुन्दरता से सजी थी .वहां चाट और मिठाई की दुकानें लगी थी .लोगों ने अपनी आवश्यकता के अनुसार अनेक वस्तुएं खरीदी .एक स्थान पर जादूगर अपना कमाल दिखा रहा था और लोगों को चकित कर रहा था .एक बड़ा झूला हमारे विशेष आकर्षण का केंद्र था .हम सभी झूले का आनंद ले रहे थे .एक कोने ने रेमंड सर्कस लगा हुआ था .लोग और बच्चे बहुत खुश दिखाई पड़ रहे थे . 

मेले से वापसी - 

मध्य रात्री के बारह बजे हम सब बहुत थक गए थे तथा सामान लिए अपने घरों को लौटे .इस प्रकार यह मेला हमारे लिए खुशियाँ लाया . 


Keywords - 
मेले पर निबंध in hindi मेले पर निबंध हिंदी में गांव का मेला निबंध हिंदी निबंध मेला मेला निबंध हिंदी में मेले का दृश्य निबंध बाल मेला एस्से इन हिंदी

एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top