0
Advertisement

मोटापा कम करने के घरेलू उपाय  
Motapa kam karne ke upay tarike tips in hindi 


मोटापा कम करने के घरेलू उपाय हिंदी में मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट कमर और पेट कम करने के उपाय पतला होने के घरेलू उपाय इन हिंदी - लड़कियों के सौन्दर्य का शत्रु निश्चय ही मोटापा है .जवान लड़की यदि मोटी हो तो उसके विवाह में दिक्कत हो सकती है ,क्योंकि एक मोटा युवक भी मोटी लड़की से विवाह नहीं करना चाहता है .यदि विवाहिता युवती हो तो उसके माँ बनने में व्यवधान पड़ता है .इसके साथ ही मोटापा बढती उम्र का एक ख़ास रोग माना जाता है .

मोटापा
मोटापा
यदि आप अनुभव करती हैं कि आपके शरीर की चर्बी बढ़ रही है तो आपको तुरंत सावधान हो जाना चाहिए .संभव है पतली - दुबली होने के कारण प्रारंभ में चर्बी बढती आपको अच्छी लगे लेकिन आगे चलकर वह आपको काफी कष्टदायक सिद्ध होगी . प्रारम्भ में आप साधारण मनोरथ पूर्ण करने में सफल नहीं होंगे .ध्यान रखिये ,आपके शरीर की सुडौलता आपका सबसे बड़ा आकर्षण हैं .मोटापे के कारण शरीर जब थुलथुला और बेडौल सा दिखाई पड़ता है तो सुन्दर नयन - नक्श तथा गोरा रंग भी अपना वास्तविक सौन्दर्य और आभा खो बैठता है .

मोटापा निम्नलिखित कारणों से बढ़ता है - 

  • भोजन को जल्दबाजी में चबाये बिना निगल जाना . 
  • अधिक मात्रा में चिकनाई वाले पदार्थों का सेवन करना . 
  • अधिक गर्म आहार लेना .
  • सदा गर्म पानी से नहाना . 
  • मीठे आहार -द्रव्यों का सेवन अधिकता के साथ करते रहना . 
  • सदैव कुछ न कुछ खाते - पीते रहना . 
  • नियमपूर्वक दिन में बहुत अधिक सोना .
  • शारीरिक श्रम बिलकुल न करना ,बल्कि आराम ज्यादा करना . 
  • शरीर में स्थित पीयूष ग्रंथि या पीयूषिका का अत्यधिक विकसित होना . 
  • प्रसव के पश्चात वायु बढ़ाने वाले आहार का अधिक मात्रा में लेते रहना . 
  • वंशानुगत
यदि उपयुक्त किसी कारण से मोटापा आ गया है तो समय रहते उसकी रोकथाम करने का प्रयास करना चाहिए .नारी जाति के लिए यह बहुत आवश्यक है . 

आप अविवाहित हो या विवाहित यदि आपके शरीर में आवश्यकता से अधिक चर्बी बढ़ गयी है तो उसकी रोकथाम के लिए आ सबसे पहला काम यह करें कि अपने खाने पीने पर नियंत्रण रखें .यानी कि सिर्फ उतना ही खाएँ ,जितने की आपके शरीर को जरुरत हो .अनाप -शनाप और बार - बार खाने की आदात को छोड़ दें . 

मोटापे के कारण यदि शरीर में आलस अधिक आ गया हो तो उसे दूर करने का प्रयास अवश्य करें .दोनों समय खाने का अपना समय नियम करें .दोनों समय के खाने में छः सात घंटे का अंतर अवश्य रखें . 

इसका सबसे सरल उपाय यही है कि आप ऐसा आहार लें जिससे आपके शरीर को स्वास्थ्य बनाये रखने के लिए समस्त आवश्यक पौष्टिक तत्व मिल सकें और साथ ही आप अपना मोटापा घटाकर अपनी आकृति पतली तथा सुन्दर बना सकें और निम्न बातों की तरफ विशेष ध्यान दें - 
  • सुबह और शाम दोनों समय एक गिलास पानी में एक नीबूं निचोड़कर पियें . 
  • चर्बी वाले पदार्थों का सेवन बिलकुल न करें . 
  • आहार की मात्रा कम कर दें . 
  • नमक और पानी की मात्रा कम कर दें . 
  • सप्ताह में कम से कम एक बार उपवास अवश्य करें . 
  • भोजन में जौ, मक्का आदि रखें पदार्थों का सेवन करें . 
  • नियमित रूप से मालिश कराएँ . 
  • शारीरिक श्रम करें .
  • प्राय : सायं टहलने जाएँ .
  • तुला आसन का व्यायाम करें . 
उपयुक्त नियमों का पालन करने पर मोटापा की समस्या अवश्य दूर होगी . 


एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top