0
 छुट्टी
छुट्टी

 छुट्टी                                                 कई घंटे जागने के बाद रात जैसे थककर सो गई थी । खिड़की के बाहर पूर्वी क्षितिज ...

और जानिएं »

1
भारत का ध्वज
भारत का ध्वज

भारत का ध्वज  Flag of India झंडा देश की मान मर्यादा का सूचक होता है .यही कारण है कि देशभक्त अपनी जान देकर भी झंडे के मान सम्मान की...

और जानिएं »

0
अगले जन्म मोहे बेटी ही कीजो
अगले जन्म मोहे बेटी ही कीजो

अगले जन्म मोहे बेटी ही कीजो  तपस्या यही नाम तो रखा था उसकी नानी ने। तप कर खरा सोना बनने वाली लड़की। तपस्या जब पैदा हुई थी तो उसकी माँ स...

और जानिएं »

1
बसंती हवा Basanti Hawa
बसंती हवा Basanti Hawa

बसंती हवा  Basanti Hawa Kedarnath Agarwal Poem हवा हूँ, हवा मैं बसंती हवा हूँ। हवा         सुनो बात मेरी –         अनोखी...

और जानिएं »

0
द्विवेदी युग Dwivedi Yug Hindi
द्विवेदी युग Dwivedi Yug Hindi

द्विवेदी युग Dwivedi Yug Hindi द्विवेदी युग Dwivedi Yug Hindi  - भारतेंदु युग की कविता में आधुनिकता का समावेश भले ही हो गया था परन...

और जानिएं »

0
रीतिकाल की प्रवृत्तियाँ विशेषताएँ
रीतिकाल की प्रवृत्तियाँ विशेषताएँ

रीतिकाल की प्रवृत्तियाँ ritikal ki pravritiyan  ritikal ki visheshtaye रीतिकाल की विशेषताएँ रीतिकाल की प्रवृत्तियाँ ritikal ki p...

और जानिएं »

0
वृद्धा पेंशन योजना की राशि बढ़ाने के लिए पत्र
वृद्धा पेंशन योजना की राशि बढ़ाने के लिए पत्र

वृद्धा पेंशन योजना की राशि बढ़ाने के लिए पत्र Letter to increase the amount of Vridha Pension Yojana सेवा में ,  संयुक्त निदेशक...

और जानिएं »

0
ठीक समय पर
ठीक समय पर

ठीक समय पर  Thik samay par nit uth jao ठीक समय पर नित उठ जाओ , ठीक समय पर चलो नहाओ . ठीक समय पर खाना खाओ , ठीक समय पर पढ़ने जाओ .....

और जानिएं »

1
भक्तिकाल की प्रवृत्तियाँ विशेषताएँ
भक्तिकाल की प्रवृत्तियाँ विशेषताएँ

भक्तिकाल की प्रवृत्तियाँ विशेषताएँ  bhakti kaal ki visheshtayen bhakti kaal ki pravritti bhakti kaal ki visheshtayen bhakti kaal k...

और जानिएं »

0
मेरा नया बचपन कविता
मेरा नया बचपन कविता

मेरा नया बचपन कविता Mera Naya Bachpan बार-बार आती है मुझको मधुर याद बचपन तेरी। गया ले गया तू जीवन की सबसे मस्त खुशी मेरी॥ चिंता-रहि...

और जानिएं »

1
बच्चों के लिए हिन्दी कविता
बच्चों के लिए हिन्दी कविता

बच्चों के लिए हिन्दी कविता baccho ke liye hindi kavita प्रिय मित्रों ,हिंदीकुंज.कॉम पर baccho ke liye hindi mein poem बच्चों के हि...

और जानिएं »

0
याद का दोना
याद का दोना

याद का दोना क्षितिज के सिंदूरी आँचल मुख में डालकर सूरज सागर की इतराती लहरों पर बूँद-बूँद टपकने लगा। सागर पर पाँव छपछपता लहरों ...

और जानिएं »

0
खाली बैठे हों तो कैसे करें टाइमपास
खाली बैठे हों तो कैसे करें टाइमपास

खाली बैठे हों तो कैसे करें टाइमपास समय बिताना कई बार एक बड़ी समस्या हो जाती है । आप सही समय पर रेलवे स्टेशन में पहुंच चुके हैं लेकिन ट...

और जानिएं »

0
हिन्दी साहित्य के वस्तुनिष्ठ प्रश्न
हिन्दी साहित्य के वस्तुनिष्ठ प्रश्न

हिन्दी साहित्य के वस्तुनिष्ठ प्रश्न Hindi Sahitya Vastunisth प्रिय मित्रों , हिंदीकुंज.कॉम में हिन्दी साहित्य के वस्तुनिष्ठ प्रश्न...

और जानिएं »

0
हाईटेंशन बिजली का  तार हटवाने के लिए प्रार्थना पत्र
हाईटेंशन बिजली का तार हटवाने के लिए प्रार्थना पत्र

हाईटेंशन बिजली का तार हटवाने के लिए प्रार्थना पत्र Prayer Letter for the removal of high tension electric wire सेवा में  श्री ...

और जानिएं »

0
धर्मनिरपेक्षता पर निबंध
धर्मनिरपेक्षता पर निबंध

धर्मनिरपेक्षता पर निबंध विश्व के इतिहास में ऐसा भी एक समय था जब लोग धर्म के नाम पर लड़ाई किया करते थे .यूरोप में जब ईसाईयत का प्रचार हु...

और जानिएं »

1
हिन्दी व्याकरण रस Ras in Hindi
हिन्दी व्याकरण रस Ras in Hindi

रस Ras in Hindi Grammar प्राचीन भारतीय साहित्य में रस का महत्वपूर्ण स्थान है।रस - संचार के बिना कोई भी प्रयोजन सिद्ध नहीं हो सकता है।रस ...

और जानिएं »

1
झूला
झूला

झूला  आओ हम सब झूला झूलें . पेंग बढ़ाकर नभ को छूलें .. हैं बहार सावन की आई . देखों श्याम घटा नभ छाई .. अब फुहार पड़ती है भाई . ठंड...

और जानिएं »

0
जय बोलो प्यारे हिंदुस्तान की
जय बोलो प्यारे हिंदुस्तान की

जय बोलो प्यारे हिंदुस्तान की एक बार फिर से जय बोलो , प्यारे हिंदुस्तान की . भारत माता  जिसकी मिट्टी सोना देती , धरती है भगवान्...

और जानिएं »

0
थाल सजाकर किसे पूजने
थाल सजाकर किसे पूजने

थाल सजाकर किसे पूजने थाल सजाकर किसे पूजने चले प्रात ही मतवाले? कहाँ चले तुम राम नाम का पीताम्बर तन पर डाले? कहाँ चले ले चन्दन अक्...

और जानिएं »

0
भगवान का वास
भगवान का वास

भगवान का वास  तू खोज रहा वन - कुंजन में , भगवान् बसा तेरे मन में . तू जाता है काबा - काशी , वह तो है घट - घट का वासी . तू जाता है...

और जानिएं »

0
एक किरण आई छाई
एक किरण आई छाई

एक किरण आई छाई एक किरण आई छाई, दुनिया में ज्योति निराली रंगी सुनहरे रंग में पत्ती-पत्ती डाली डाली . एक किरण आई लाई, पूरब में सु...

और जानिएं »

0
जब सूरज जग जाता है
जब सूरज जग जाता है

जब सूरज जग जाता है  आँखें मलकर धीरे धीरे सूरज जब जाग जाता हैं , सिर पर रखकर पाँव अँधेरा चुपके से भाग जाता है . सूरज हौले से मुस...

और जानिएं »

1
गांधी बन जाऊँगा
गांधी बन जाऊँगा

गांधी बन जाऊँगा  माँ, खादी का चादर  दे दे, मैं गाँधी बन जाऊँ, सब मित्रों के बीच बैठ फिर रघुपति राघव गाऊँ! निकर नहीं धोती पहनूँगा, खाद...

और जानिएं »

0
घर में चोरी की शिकायत करते हुए पुलिस निरीक्षक को पत्र
घर में चोरी की शिकायत करते हुए पुलिस निरीक्षक को पत्र

घर में चोरी की शिकायत करते हुए पुलिस निरीक्षक को पत्र write a letter to the local police station about a theft सेवा में ,  श...

और जानिएं »

0
प्रभु को नमन
प्रभु को नमन

प्रभु को नमन  नतमस्तक हो हे प्रभु नमन करते हैं हम तुम्हे तूने सूरज चाँद देकर नमन प्रकाशित किया जग सारा . रंग - बिरंगे फूलों से ...

और जानिएं »

0
महात्मा गांधी जी पर कविता
महात्मा गांधी जी पर कविता

महात्मा गांधी जी पर कविता चल पड़े जिधर दो डग मग में चल पड़े कोटि पग उसी ओर ; गड़ गई जिधर भी एक दृष्टि महात्मा गांधी जी गड़ गए कोट...

और जानिएं »

0
गुलाब पर कविता
गुलाब पर कविता

गुलाब पर कविता  हे गुलाब फूलों के राजा , काँटों में मुस्कारते हो . गुलाब लाल सफ़ेद गुलाबी पीले सारे जग को भाते हो .. डाली - डाली ...

और जानिएं »

0
खिलौना आया है
खिलौना आया है

खिलौना आया है दूर किसी जादू नगरी से एक खिलौना आया है . नंदन वन से नन्हा - नन्हा यह मृग छौना  आया है , घर आंगन से हौले हौले ठुमक ठुम...

और जानिएं »
 
 
Top