0
Advertisement

विशेषण विशेष्य

जिस शब्द से संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता अर्थात गन दोष ,रंग, आकार ,संख्या ,परिणाम आदि का बोध हो ,उसे विशेषण कहते हैं।  इसी तरह विशेषण शब्द के द्वारा जिस संज्ञा या सर्वनाम शब्द की विशेषता प्रकट होती , उसे विशेष्य के नाम से संबोधित करते हैं।  जैसे - 

१. सुन्दर लड़की खेल रही हैं।  
२. वह सुन्दर है।  
३. रमेश दयालू है।  
४. वह दयालु  है।  

इन वाक्यों में सुंदर और दयालु शब्द विशेषण है।  ये शब्द क्रमशः लड़की ,वह ,रमेश तथा वह शब्द की विशेषता बता रहे हैं।  अतः ये विशेष्य है।  

विशेष्य की परिभाषा - 

विशेषण जिस संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बताते हैं ,उन्हें विशेष्य कहते है।  


विशेषण और विशेष्य examples - 

इस बात को हम निम्नलिखित उदाहरण में देख सकते हैं - 
१. सुरेश बुद्धिमान है। 
२. वह बुद्धिमान है।  
३. महिमा लम्बी है।  
४. वह लम्बी है।  
५. राधा मोटी है।  
६. वह पतली है।  

उपरोक्त लिखे वाक्यों में बुद्धिमान ,लम्बी ,मोटी  और पतली शब्द विशेषण हैं। ये शब्द क्रमशः सुरेश ,वह ,महिमा ,राधा आदि शब्दों की विशेषता बता रहे हैं।  इस प्रकार सुरेश ,वह ,महिमा ,वह ,राधा तथा वह शब्द विशेषता है।  अतः हम कह सकते हैं कि विशेषण शब्द ,संज्ञा तथा सर्वनाम दोनों की विशेषता बताते हैं।  


Keywords - 
विशेष्य की परिभाषा विशेषण अभ्यास विशेषण उदाहरण संज्ञा से विशेषण बनाना विशेषण list विशेष्य की परिभाषा विशेषण और विशेष्य examples visheshan visheshya


एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top