0
Advertisement

शीत ऋतु पर निबंध  
Essay on Winter Season in Hindi

भारत में छह ऋतुएँ आती हैं।   जिनमें है - वसंत ,वर्षा ,शरद ,ग्रीष्म ,हेमंत और शीत ऋतु । शीत ऋतु का आगमन शरद ऋतु के बाद होता है।इसका समय कार्तिक से  माघ मास तक( नवम्बर से फरवरी तक होती है) होता है।भारत में नवम्बर में शुरू हुई ठण्ड दिसम्बर आते - आते भीषण ठण्ड में बदल जाती है।शीत  ऋतु  में दिन छोटे एवं रातें लम्बी होती है।  सूर्य की जो गर्मी  लोगों को ग्रीष्म ऋतु  में अच्छी नहीं लगती है ,वह अब लोगों को बहुत प्यारी  लगने लगती है।  लोग धूप का आनंद लेने लगते हैं इसीलिए  सर्दियों में लोग आग का आनंद लेते हैं।  

गरीबों के कष्टदायी 

सर्दी का मौसम
सर्दी का मौसम
गरीबों के लिए शीत  ऋतु  बहुत कष्टदायी  होती है।  उनके पास प्रायः गर्म कपड़ों का अभाव होता है।  कम्बल ,स्वेटर ,रजाई आदि खरीदने के लिए उनके पास पैसे नहीं होते हैं। ऐसे लोग आग से ही राहत का अनुभव करते हैं।  अमीरों के लिए शीत ऋतु बहुत आनंददायक होती है।  उनके पास अच्छे गर्म कैसे होते हैं। वे रंगीन जैकेट ,कोट या स्वेटर  पहनते है।  शीत ऋतु  में तापमान काम होने ही हालत में गरिबों के लिए अलाव एवं बेघरों  के लिए रैन बसेरों की व्वस्था सरकार को करनी पड़ती है।  

स्वास्थ्यवर्द्धक समय 

शीत ऋतु  में पाचन शक्ति  प्रबल होती है इसीलिए इस समय लोग आराम से भोजन कर पाते हैं।  ठण्ड के समय अच्छे स्वास्थ्य के लिए अच्छे खान पान का भी ध्यान रखना पड़ता है।  तापमान काम होने के कारण शरीर की त्वचा रूखी हो जाती है ,इसीलिए त्वचा का विशेष ध्यान रखा जाता है।तेल मालिश के साथ गर्म  पानी से स्नान अति उत्तम माना जाता है।  

हरी सब्जियां  व फूल 

शीत  ऋतु का अपना विशेष महत्व होता है।  शीत ऋतु  के प्रारम्भ में कम  तापमान में में गेंहू जैसी फसलों को बोया जाता है।  ठण्ड में हरी सब्जियों की भी भरमार होती है।  धनिया ,मेथी , गाजर , मटर , बैगन , गोभी , मूली , इत्यादि का आनंद हम इसी मौसम में ले पाते है। बंदगोभी, सेम, मटर, फूलगोभी, आलू, मूली, गाजर, टमाटर, लौकी आदि सब्जियाँ इस मौसम में खूब मिलती हैं।  शीत ऋतु  में ठन्डे  बर्फ़बारी के दृश्य मनमोहक होते है।  इसे देखने लोग पर्वतीय स्थलों पर जाते हैं।  इस मौसम में गेंदा, गुलदाउदी ,सूरजमुखी , गुलाब एवं डहेलिया आदि के फूलों की खूबसूरत छटा  का आनंद शीत  ऋतु  में ही लिया जा सकता है। शीत ऋतु में त्योहारों का भी बहुत महत्त्व है । उत्तर भारत में 14 जनवरी को लोहड़ी और मकर संक्रांति  मनाई जाती है  । दिसंबर में ईसाई समुदाय द्वारा क्रिसमस का त्योहार मनाया जाता है  । अन्य वर्ग बड़े दिन की छुट्‌टियाँ मनाते है । इसी समय गणतंत्र दिवस और वसंत पंचमी का त्योहार भी आता है। 

शीत ऋतु का जीवन में सन्देश 

शीत ऋतु हमें जीवन के संघर्षों का सामना करने की प्रेरणा देती है।  इससे पहले शरद ऋतु  में हमारा जीवन सामान्य रहता है, किन्तु शीत  काल में हमारा संघर्ष बढ़ जाता है ,जिस तरह शीत  ऋतु  के जाने के बाद हमें वसंत का आनंद मिलता है ,ठीक उसी तरह जीवन में संघर्ष करने के बाद हमें सफलता का आनंद मिलता है।यही सन्देश हमें शीत ऋतु देती है।  

Keywords - 
essay on winter vacation in hindi
essay on winter season in hindi for class 5
information about summer season in hindi
sardi ka mausam essay in hindi
शीत ऋतु के बारे में
शरद ऋतु पर लेख
शीत ऋतु के फल
सर्दी का मौसम पर निबंध
Short Essay On Winter Season In Hindi

एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top