2
Advertisement

एक अछूत बच्चे के सवाल

मैं तो अछूत बच्चा हूँ जी
समझ का भी थोड़ा कच्चा हूँ जी।
मुझे समझना है कि पापा क्यों पीते हैं।
मुझे समझना है कि घर के बर्तन क्यों रीते हैं।
एक अछूत बच्चे के सवाल
मुझे समझना है कि मम्मी क्यों पिटती हैं।
मुझे समझना है कि भूख कैसे मिटती हैं।
क्यों मां मुझको मंदिर नहीं जाने देती हैं।
क्यों माँ त्योहारों में भीख लेती है।
मेरे पापा को कोई काम क्यों नहीं देता हैं।
मेरे घर में आराम क्यों नहीं रहता है।
क्यों बच्चे मुझको छूने से कतराते हैं
मेरे हाथों का खाना लोग क्यों  नही खातें हैं।
क्यों मेरा मोहल्ला अछूत कहलाता है।
क्यों मेरे घर कोई नही आता हैं।
क्यों हम सिर पर चप्पल रखते हैं।
जब चौधरी के घर के सामने से निकलते हैं।
वोट मांगने नेता जी जब आते हैं।
पापा को क्यों बोतल दे जाते हैं।
क्यों स्कूल में मेरी अलग थाली है।
क्यों मेरी सीट सबसे पीछे वाली है।
मेरे कुछ सवाल अनुत्तरित है।
जिनके जबाब आप से अपेक्षित है।

-सुशील शर्मा

एक टिप्पणी भेजें

  1. मन को छु जाने वाली कविता, यह सवाल तो हर बच्चें दिल में आता ही होंगा जिसे ऐसा बर्ताव का सामना करना पड़ता हैं.

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top