0
Advertisement

छोटे भाई को पत्र कि अधिक सिनेमा देखने से क्या - क्या हानियाँ होती हैं ?

(Letter of Advice to Younger Brother)

बृजमोहन कुञ्ज
नयी दिल्ली
दिनांक - ८ मार्च २०१७

प्रिय रमेश 
सदा खुश रहो 
आज ही मुझे तुम्हारे अध्यापक का पत्र प्राप्त हुआ .मुझे यह जानकार अत्यंत दुःख हुआ कि तुम अपना समय पढाई - लिखाई में न लगा कर सिनेमा देखने में बिता रहे हो . यह अच्छी बात नहीं है . इस शौक से लाभ की जगह हानि ही होती है . देखो ,तुम अभी विधार्थी हो . सिनेमा मनोरंजन का एक साधन है जिससे थके मांदे लोग अपना मनोरंजन करते हैं , लेकिन यदि तुम इस समय सिनेमा देखने लगोगे तो तुम्हारी पढाई पर इसका विपरीत असर होगा . समय के साथ - साथ धन की भी हानि होगी और सिनेमा देखने से उसके अन्दर की गलत बातें तुम्हारे दिलोदिमाग पर असर करेंगी . इसीलिए यदि परीक्षा में अच्छे अंको से पास होना है ,तो तुम्हें इस आदत को बदलना होगा . आशा है कि तुम अपने बड़े भाई कि बातों को अन्यथा न लेते हुए इस पर ध्यान से अमल करोगे . 
माँ और पिता जी की तरफ से तुम्हे आशीर्वाद

तुम्हारा भाई 
प्रियतोश

एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top