7
Advertisement
आशुतोष द्विवेदी 
आज फिर कुछ तप्त-लोहित प्रश्न मेरे सामने हैं 
और ये अंगार मुझको कर-तलों में थामने हैं 

प्रश्न - मैं क्यों जी रहा हूँ ?
रक्त सा क्या पी रहा हूँ?
ज़िन्दगी सन्यास जैसी;
कल्पना मधुमास जैसी ?
संस्कृति के गीत गाता;
कंठ में गाँठें लगाता ?
काइयाँपन खून में है?
सभ्यता पतलून में है ?
फोन पर रिश्ते निभाता;
प्यार पर कविता सुनाता ?
भीड़ का हो चूका जीवन;
भीड़ से भयभीत है मन ?
कुछ नहीं अपनी खबर है;
खो न जाँऊ, मगर, डर है ?
भटकता भ्रम के धुएं में?
या की मेंढक सा कुएं में?
कवच में खुद को लपेटे?
किसी कछुए सा समेटे ?
क्या बचाना चाहता हूँ?
क्या मिटाना चाहता हूँ ?
क्या  छिपाना चाहता हूँ ?
क्या  दिखाना चाहता हूँ?
पल रहा प्रतिशोध कैसा?
एक सतत विरोध कैसा?
बेहया मुस्कान मुख पर !
शराफत की शान मुख पर !
क्रांति के उपदेश घर पर;
और दफ़्तर - सिर्फ "यस सर" ?
नौकरी क्यों कर रहा हूँ ?
रोज़ घुट-घुट मर रहा हूँ ?
मोह है परिवार से भी;
ऊबता इस भार से भी?
मुक्ति की दरकार भी है;
बन्धनों से प्यार भी है ?
वृद्ध संयम जूझता, फिर उलझता है जटिलता में,
संशयों के सूत्र सारे पकड़ रखे काम ने हैं..........

आज फिर कुछ तप्त-लोहित प्रश्न मेरे सामने हैं 
और ये अंगार मुझको कर-तलों में थामने हैं 


यह रचना आशुतोष द्विवेदी जी द्वारा लिखी गयी है। आपकी ,१९९४ से काव्य-रचना - विभिन्न विधाओं में, जैसे- छंद (घनाक्षरी, सवैया, दोहा, संस्कृत-वर्णवृत्त), गीत, ग़ज़ल, मुक्तक |  कुछ मंचों पर एवं कई गोष्ठियों में काव्य-पाठ | विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में फुटकर प्रकाशन आदि हो चुका  है।    

एक टिप्पणी भेजें

  1. बहुत सुंदर शब्दबीथी

    ऐसा लगा .... गोया ये ही हमारे दिल में है.....

    बधाई
    शुभकामनाएं और लिखें लिखते रहें.....

    सप्रेम
    डॉ राजीव कुमार रावत
    हिंदी अधिकारी
    आईआईटी खड़गपुर 721302

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह फोन पर रिश्ते निभाता... प्यार पर कविता सुनाता
    वाह
    वाह

    उत्तर देंहटाएं
  3. वास्तविकता का सुंदर व से्पष्ट बखान... काबिल-ए- तारीफ रचना

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top