4
Advertisement
प्रिय मित्रों , आज ३१ जुलाई हिन्दी के मूर्धन्य रचनाकार प्रेमचंद का जन्म दिवस है. प्रेमचंद, हिन्दी
साहित्य के ऐसे कथाकार का नाम है ,जिनसे साधारण पढ़ा -लिखा भी परिचित है। प्रेमचंद को उपन्यास सम्राट की उपाधि प्राप्त है,किंतु वे जितने बड़े उपन्यासकार थे ,उतने ही बड़े कहानीकार भी थे।प्रेमचंद के विषय में ,आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी के शब्दों में कहा जा सकता है - 'प्रेमचंद शताब्दियों से पद-दलित और अपमानित कृषकों की आवाज थेपरदे में कैद पद -पद पर लांछि और अपमानित, असहाय, नारी जाति की महिमा के जबरदस्त वकील थे।' 

आप सभी हिंदीकुंज में प्रेमचंद के सम्बंधित उपन्यास , कहानियां ,निबंध व लेख आदि पढ़ सकते है . आप सभी पाठकों को प्रेमचंद के जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएँ . 
धन्यवाद.

एक टिप्पणी भेजें

  1. ऐसे महान,लेखनी के धनी व्यक्तित्व को मेरा शत्-शत् नमन्!

    उत्तर देंहटाएं
  2. premchand bhartiy sahity ki shan hai.bhartiy samaj ko karib se pahachan kar yatharth rup se abhivyakt karne vale kalam ke sipahi ko koti koti vandan!!!!
    DR.JANAK JOSHI,ASSOCIATE PROFFESOR.

    उत्तर देंहटाएं
  3. माहन लेखक प्रेमचंद का मेरा प्रणम है

    उत्तर देंहटाएं
  4. उपन्यास सम्राट मुंशी प्रेमचंद जैसे महान लेखक शताब्दियों में एक्का दुक्का होते हैं।ये हम लोगों का सौभाग्य है कि उनके जैसे महान साहित्यकार ने हमारी भारत भूमि पर जन्म लिया और अपनी लेखनी से समाज के हर वर्ग का सजीव साकार चित्रण हमारे सम्मुख प्रस्तुत किया तथा अपनी लेखनी के बल पर समाज की दशा और दिशा बदलने का प्रयास किया और मेरे मुताबिक़ वो बहुत हद तक सफल भी हुए

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top