3
सूर्य का स्वागत/दुष्यंत कुमार
सूर्य का स्वागत/दुष्यंत कुमार

दुष्यंत कुमार परदे हटाकर करीने से रोशनदान खोलकर कमरे का फर्नीचर सजाकर ...

और जानिएं »

1
चुटकुला
चुटकुला

एक साहब साईकिल पर जा रहे थे . साईकिल के पीछे उनका बच्चा बहुत जोर से रो रहा था . उसको रोता देख एक राहगीर ने उन साहब से पूछा - 'कमाल ह...

और जानिएं »

0
चलो सजनी/ कुमार रवीन्द्र के नवगीत
चलो सजनी/ कुमार रवीन्द्र के नवगीत

कुमार रविन्द्र चलो, सजनी इस अधूरे आखिरी दिन को                    यहीं पर हम सिरायें   थक चुके हम धूप भी है थकी-हारी  हुई बोझिल  ...

और जानिएं »

1
रेत पर ओस/विचार मंथन
रेत पर ओस/विचार मंथन

मनोज सिंह यह दुबई की मेरी पहली यात्रा थी। विश्व में आज यह एक चर्चित स्थान है। इसके बारे में काफी कुछ सुन रखा था। यूं तो हिंदुस्तान में ...

और जानिएं »

6
मोहन राकेश की कहानी - परमात्मा का कुत्ता (२)
मोहन राकेश की कहानी - परमात्मा का कुत्ता (२)

मोहन राकेश गतांक से आगे ..... बाबू लोग भीड़ को हटाते हुए आगे बढ़ आये और उन्होंने चपरासी को उस आदमी के प...

और जानिएं »

1
परमात्मा का कुत्ता(1)/मोहन राकेश की कहानी
परमात्मा का कुत्ता(1)/मोहन राकेश की कहानी

मोहन राकेश बहुत-से लोग यहाँ-वहाँ सिर लटकाए बैठे थे जैसे किसी का मातम करने आए हों। कुछ लोग अपनी पोटलिया...

और जानिएं »

8
विस्मयादिबोधक अव्यय (interjections)
विस्मयादिबोधक अव्यय (interjections)

जिन शब्दों से शोक , विस्मय , घृणा , आश्चर्य आदि भाव व्यक्त हों , उन्हें विस्मयादि बोधक अव्यय कहा जाता है । जैसे - अरे ...

और जानिएं »

3
शिकारी राजकुमार/प्रेमचंद की कहानियां
शिकारी राजकुमार/प्रेमचंद की कहानियां

प्रेमचंद मई का महीना और मध्याह्न का समय था। सूर्य की आँखें सामने से हटकर सिर पर जा पहुँची थीं, इसलिए उनमे...

और जानिएं »
 
 
Top