2
Advertisement
भारतेंदु हरिश्चंद्र
एक काने ने किसी आदमी से यह शर्त बदी कि, “जो मैं तुमसे ज्यादा देखता हूँ तो पचास रूपया जीतूँ.”  
और जब शर्त पक्की हो चुकी तो काना बोला कि, “लो, मैं जीता.
दूसरे ने पूछा, “क्यों?” 
इसने जवाब दिया कि, “मैं तुम्हारी दोनों आँखें देखता हूँ और तुम मेरी एक ही.
 

एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top