19
Advertisement
एक बार दरबार में एक सभासद ने बादशाह अकबर से कहा - जहाँपनाह ! ऐसा कौन सा प्रश्न है ,जो हम नहीं बता सकते और बीरबल बता सकता है ?
बादशाह ने मन में सोचा कि इसको बीरबल से नीचा दिखाऊंगा . यह सोचकर उन्होंने कहा - अच्छा बताओ इस समय लोगों के मन में क्या है ?
वह सभासद बोला - हुजूर ! यह बात तो सिवाय खुदा के और कोई नहीं बता सकता ,बीरबल बता दें तो हम जाने .
उसी समय बीरबल बुलाये गए . उनके सामने भी यही प्रश्न रखा गया . उन्होंने तुरंत ही कहा इस समय सबके मन में यही बात है कि यह दरबार सदा इसी तरह भरा रहे और बादशाह सलामत सदा जिंदा रहें .
सभी ने उनकी बात को मान लिया , क्योंकि अस्वीकार करने पर मौत किसे बुलानी थी . बेचारा सभासद अपना सा मुँह लेकर रह गया . बादशाह अकबर जबाब को सुनकर बड़े प्रसन्न हुए और बीरबल को पुरस्कार भी दिया .

एक टिप्पणी भेजें

  1. अकबर बीरबल के किस्से हमेसा मजेदार होते है |

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर!
    आपको और आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामना!

    उत्तर देंहटाएं
  3. दीप-पर्व की आपको ढेर सारी बधाइयाँ एवं शुभकामनाएं ! आपका
    अशोक बजाज रायपुर

    उत्तर देंहटाएं
  4. आप सभी को खासकर इमानदार इंसान बनने के लिए संघर्षरत लोगों को दीपावली की हार्दिक बधाई और शुभकामनायें....

    उत्तर देंहटाएं
  5. great stories and my kids have addicted reading them...keep posting.

    उत्तर देंहटाएं
  6. आकबर और बीरबल के किशे मुझे हमेशा से पसंद है

    उत्तर देंहटाएं
  7. आकबर और बीरबल के किशे मुझे हमेशा से पसंद है

    उत्तर देंहटाएं
  8. आकबर और बीरबल के किशे मुझे हमेशा से पसंद है

    उत्तर देंहटाएं
  9. आकबर और बीरबल के किशे मुझे हमेशा से पसंद है

    उत्तर देंहटाएं
  10. क्या बात हे बीरबल भाई ......

    उत्तर देंहटाएं
  11. akbar beerbal ke kisse sadev shikshaprad avam manoranjak hote hai

    उत्तर देंहटाएं
  12. akbar-beerbal ke kisse hamesa shikshaprad avam manoranjak hote hai.

    उत्तर देंहटाएं
  13. Video vak hi me bahut hi achha hai sabhi log jarur dekhe...mere to ansu nikal aye...Great job yar...

    Darpan Joshi

    उत्तर देंहटाएं
  14. Akbar aur birbal ki kahani mujhe bahut pasand hai

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top