0
Advertisement

बंद हो गया भारत

क्या समस्या हुई विलीन

राजनीति के बन्दर ने

सुख चैन लिया है छीन

आम जनता को मिला खास क्या

पक्ष हो या हो विपक्ष

क्या मारेगी महंगाई

नेता ही जब राक्षस

रावण तो बस एक दसानन

हर नेता रावण है

सीता बुद्धि जनता की

जिनका किया हरण है

बंद करो या चक्का जाम

परिवर्तन नहीं होगा

क्या रक्षा के बारे सोंचे

चोर बना जो दरोगा

हो सरकार किसी की

बन्दर बाँट है जारी

जिनके हाँथ में दी कमान थी

निकले बड़े भीखारी ..............


एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top