0
Advertisement
इब्ने इंशा
यह भारत है। गांधी जी यहीं पैदा हुए थे। यहां उनकी बड़ी इज़्ज़त होती थी। उन्हें महात्मा कहते थे। चुनांचे मारकर उन्हें यहीं दफन कर दिया और समाधि बना दी। दूसरे मुल्कों के बड़े लोग आते हैं तो इस पर फूल चढ़ाते हैं। अगर गांधी जी नहीं मारे जाते तो पूरे हिंदुस्तान के श्रद्धालुओं के लिए फूल चढ़ाने के लिए कोई जगह ही न थी।
यह मसला हमारे , यानी पाकिस्तान वालों के लिए भी था। हमें कायदे आजम जिन्नासाहब का अहसानमंद होना चाहिए कि वह खुद ही मर गए और टूरिस्टों की फूल चढ़ाने की एक जगह पैदा कर दी। वरना शायद हमें भी उनको मारना ही पड़ता।
भारत का पवित्र जानवर गाय है। भारतीय उसी का दूध पीते हैं ,उसी के गोबर से लीपा करते हैं। लेकिन आदमी को भारत में पवित्र जानवर नहीं माना जाता।

एक टिप्पणी भेजें

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top