35
Advertisement
संज्ञा का शाब्दिक अर्थ होता है : नाम। किसी व्यक्ति,वस्तु,स्थान तथा भाव के नाम को संज्ञा कहा जाता है। जैसे - राम,वाराणसी,महल,बहादुरी,रामायण आदि।

हिन्दी में मुख्य रूप से संज्ञा के पाँच भेद माने जाते है :-
१.व्यक्तिवाचक संज्ञा
२.जातिवाचक संज्ञा
३.भाववाचक संज्ञा
४.समूहवाचक संज्ञा
५.द्रव्यवाचक संज्ञा

१.व्यक्तिवाचक संज्ञा:- जिस शब्द से किसी एक विशेष व्यक्ति,वस्तु या स्थान आदि का बोध होता है, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते है जैसे -राम,कृष्ण ,सीता ,गंगा,यमुना,गोदावरी,काशी,कलकत्ता ,दिल्ली,हिमालय,सतपुडा आदि।




२.जातिवाचक संज्ञा :- जिस शब्द से एक ही जाति के अनेक प्राणियो या वस्तुओं का बोध हो ,उसे जातिवाचक संज्ञा कहते है जैसे - कलम,पुस्तक,दूध,कुर्सी,घर,विद्यालय,सड़क,बाग़,पहाड़,कुत्ता,हाथी,गाय,बैल आदि।
३.भाववाचक संज्ञा :- जिस संज्ञा शब्द से किसी के गुण,दोष,दशा ,स्वभाव ,भाव आदि का बोध होता हो, उसे भाववाचक संज्ञा कहते है जैसे - सच्चाई ,ईमानदारी,गर्मी,वीरता,लड़कपन,सुख,बुढ़ापा,हरियाली,जवानी,गरीबी आदि।



.समूहवाचक संज्ञा :- जो संज्ञा शब्द किसी समूह या समुदाय का बोध कराते है, उसे समूहवाचक संज्ञा कहते है जैसे -भीड़ ,सेना,जुलुस ,खेल आदि।

५.द्रव्यवाचक संज्ञा :- जो संज्ञा शब्द ,किसी द्रव्य ,पदार्थ या धातु आदि का बोध कराते है, उसे द्रव्यवाचक संज्ञा कहते है जैसे -स्टील,घी ,सोना,दूध ,पानी,लकड़ी आदि।

एक टिप्पणी भेजें

  1. बहुत सुंदर वर्णन किया आपने,
    ज्ञान बढ़ा दिया,वैसे पढ़ा था,
    पर आपने यादें ताज़ा करा दिया
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  2. sabse pehle main apko dhanyavaad dena chahta hoon, kyunki hindikunj vaakai main gyanvardhak hai. yeh keval vidyarthiyon ke liye upyogi nahi hai, balki aam aadmi aur teaching jaise vargon ke liye bhi upyogi hai . bye

    उत्तर देंहटाएं
  3. hello ji yeh ek bahut sunder hai aur gian vardhk bhi hai

    उत्तर देंहटाएं
  4. Thank You! It helped me a lot. Well, I've to do a project on "संज्ञा" but I don't have certain books. So I Googled it and came here and wrote all these. Thank You! once again

    उत्तर देंहटाएं
  5. its my exams going on it helped me a lot.......... first i hated hindi but now it is the revearse................

    उत्तर देंहटाएं
  6. muje je padkar buhat acha laga

    उत्तर देंहटाएं
  7. meri exams ke vatkh mujhe itni acchi site mili.....i got a lot of help...................

    उत्तर देंहटाएं
  8. आपने बहुत अच्छा प्रयास किया है . धन्यवाद I

    उत्तर देंहटाएं
  9. आपने बहुत अच्छा प्रयास किया है . धन्यवाद I

    उत्तर देंहटाएं
  10. Saanp ka bhav vachak sangya kya hai?

    उत्तर देंहटाएं
  11. बेनामीजून 24, 2013 6:52 am

    Please enable basic options like "right click" , "Print" , "Cut copy paste". These options are basic necessities for internet users. I hope my this request will be entertained positively soon. Waiting for response.

    Thanks for creating a amazingly brilliant hindi blog. All the best for future.

    From
    "A hindi student"

    उत्तर देंहटाएं
  12. dil se trif kna chta hu apke es prys ki ...such a brilent knock for all hindi stidet improve in his hindi ......sukriya ..ek bt ar khna chta hu ki jarur-2 esme copy-paste /print ke opptoin bhi de ..jisse hume apke es adyan ko pdne me ruchi bdhe?

    उत्तर देंहटाएं
  13. बेनामीमई 20, 2014 10:46 am

    bahut acha likha hua hain, bahu kuch bool gaye hte aapne phir se yaad karva diya thanks

    उत्तर देंहटाएं
  14. महोदय,
    आपका सादर धन्यवाद कृपया इसी तरह हिंदी भाषा के सम्बन्ध में ज्ञान वर्धन करते
    रहें बहुत बड़ी कृपा होगी .
    भवदीय
    पुष्पेन्द्र सिंह राठौर

    उत्तर देंहटाएं
  15. ishwar ki bhav vachak sangya kya hoti hai?

    उत्तर देंहटाएं
  16. उत्तर
    1. जी नहीं। शिमला व्यक्तिवाचक संज्ञा है। धन्यवाद हिन्दीकुंज इतनी ज्ञानवर्धक पोस्ट के लिए।

      हटाएं
    2. aap ke wjay se bachche badia tarike se shikh lenge thanks ........

      हटाएं
  17. ye baat mujhe pahle kabhi samajh me n ayi aur aaj mai samajh gaya

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top