58
हिन्दी वर्णमाला में ५२ अक्षर होते है , जो कि निम्न है :-
स्वर :-
अ आ इ ई उ ऊ ए ऐ ओ औ अं अः ऋ ॠ ऌ ॡ



व्यंजन :-

क ख ग घ ङ
च छ ज झ ञ
ट ठ ड ढ ण (ड़, ढ़)
त थ द ध न
प फ ब भ म
य र ल व
स श ष ह
क्ष त्र ज्ञ

नोट :- यह वर्णमाला देवनागरी लिपि की है। देवनागरी लिपि में संस्कृत,मराठी,कोंकणी ,नेपाली,मैथिली आदि भाषाएँ लिखी जाती है।यहाँ पर ध्यान देने योग्य बात है कि हिंदी में ॠ ऌ ॡ का प्रयोग प्रायः नहीं होता।

हिन्दी वर्णमाला ऑडियो-विडियो के रूप में यहाँ देख सकते है।

एक टिप्पणी भेजें

  1. दुबेजी, नमस्कार। आपका प्रयास बहुत ही सराहनीय है। मैं बच्चो के लिए एक ब्लाग ननिहाल http://nanihal.blogspot.com लिखता हूँ। जिसमें मैं हिंदी के सभी वर्णों के ऊपर एक-दो कविताएँ सरल भाषा में लिखने का प्रयास करता हूँ। आपसे निवेदन है कि आप यह ब्लाग जरूर देखें।
    सादर धन्यवाद।
    भवदीय,
    प्रभाकर पाण्डेय,
    Research Associate, IIT Bombay

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. नमस्ते दुबे जी
      मैं जयश्री जाजू | मैं भी छोटे बच्चों के लिए,उनको हमारी भाषा में समृद्ध करने हेतु कुछ प्रयास कर रही हूँ | मैं अध्यापक हूँ और हिंदी ही पढ़ाती हूँ सो मैं आपने छात्रों के लिए कई तरह के खेल रचकर भाषा को पढ़ाने का प्रयास करती हूँ | हिंदी कुञ्ज पर एक छोटा-सा प्रयास मेरा भी है पढ़कर अपनी राय दीजिएगा | वर्णमाला के अक्षर के उच्चारण को सुधारने हेतु एवं शब्द ज्ञान भी बढाने हेतु |
      धन्यवाद

      हटाएं
  2. SHURAAT ACHHI H.
    PRATU AAJ KAL TO UCHARAN KI SAMASYA H.
    YADI AAP AUDIO LINK BHI JOD PAYE TO YEH BAHUT ACHHA HOGA JI.

    REPLY MUST

    RAMESH SACHDEVA
    DIRECTOR,
    HPS DAY-BOARDING SENIOR SECONDARY SCHOOL,
    "A SCHOOL WHERE LEARNING & STUDYING @ SPEED OF THOUGHTS"
    SHERGARH (M.DABWALI)-125104
    DISTT. SIRSA (HARYANA) - INDIA
    HERE DREAMS ARE TAKING SHAPE
    +91-1668-230327, 229327
    www.hpsshergarh.wordpress.com

    उत्तर देंहटाएं
  3. मेरा विचार है कि
    "ट ठ ड ढ ण"
    क्रम में
    "त थ द ध न"
    से पहले आता है ...

    उत्तर देंहटाएं
  4. काजल जी क्रम तो सही है। अब हम इतने विश्वास से इसलिये बोल सकते हैं कि हम अपने बच्चे को रोज ही ककहरा पढाते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  5. दुबे जी नमस्कार, पहली बार आया हुं बहुत सुंदर , यहां (जर्मन) मै बहुत से परिवार रहते है जिन के बच्चे हिन्दी सीखना चाहते है, मै आप की इस साईड के बारे सब को बताऊगां, ओर हां.. यह लिंक तो काम नही कर रहा...
    हिन्दी वर्णमाला ऑडियो-विडियो के रूप में यहाँ देख सकते है।
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  6. क्रम तो सही है, वर्ण ५२ ही होते हैं,वाकी दोनो तो ड व ढ के लिन्क हैं।
    --वस्तुतः इन्हें वर्ण कहा जाता है,अक्षर नहीं,तभी यह वर्ण माला है। वर्ण में स्वर जुड कर अक्षर बनता है यथा-- क(हलंत सहित-वर्ण)+अ(स्वर)= क (अक्षर-हलंत रहि्त)

    उत्तर देंहटाएं
  7. कम्प्युटर की बोर्ड से हलंत, व ग्य और क्रिपा की सही हिन्दी कैसे टाइप की जाय?

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत अच्छा लगा ...
    बहुत बहुत बधाई ....

    kundan kr singh
    birlapur, kolkata.

    उत्तर देंहटाएं
  9. हिंदी विकास और प्रसार के प्रत्येक कार्य हेतु हमारी शुभकामनाएँ स्वीकारें .
    - विजय तिवारी ' किसलय '

    उत्तर देंहटाएं
  10. श्रीमान, मैं कम्प्युटर के अंग्रेजी की बोर्ड से हिंदी में टाईप करने की कोशिश कर रहा हूँ, परंतु हिंदी के कुछ विशेष शब्द नहीं मिल पाते हैं । अंग्रेजी की बोर्ड में वह शब्द नहीं हैं । कृपया करके बतायें वह शब्द केसै टाइप करें । खासकर हिंदी वर्णमाला के अंतिम शब्द । आपका धन्यबाद । Email;// pipalmr@yahoo.com

    उत्तर देंहटाएं
  11. apka Prayas bahut hi nek hai. Hindi sikhne ke liye basic knowledge bahut hi jaruri hai.
    DD Goyal
    Bhopal
    goyalddmphb@yahoo.co.in

    उत्तर देंहटाएं
  12. अं अः ऋ ॠ ऌ ॡ आदि हिंदी वर्ण माला से निकालना है। क्यों कि अं शब्द का उच्चारण स्वरांत नहीं है।
    अंक
    अंचल
    अंडा
    अंतर
    अंबर
    आदि शब्दों में भी अं का उच्चारण भिन्न है। यह तो ङ ञ ण न म युक्त है। हम अहिंदी प्रदेश से हैं।
    कृपया हमारी मदद करें।
    http://www.hindisopan.blogspot.com
    http://www.mlpmschoolnews.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  13. hindi veran mala main ang ki matra pratayek varg ke panchmakshr ke vikalp main hota hain

    उत्तर देंहटाएं
  14. bahut behtar hai par hindi prashnottari me keval 10 hi prashn hai us me or bhi prashn jode ji or praman patra hastakshar rahit hai kripaya hastakshr bhi kare. Aisa karne se or bhi behtar ho jaye

    उत्तर देंहटाएं
  15. Sir, log poochhate hai ki hindi me swar aur vayajan mila kar kul kitne akshar hote hai?? ans: koi 50 koi 52 khta hai kaun sa sahi hai??? sab alag alag batate hai?????

    उत्तर देंहटाएं
  16. सुंदर प्रयास
    हिंदी लिखनी बेटा प्रभाकर जी सिखाई
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. मेरे सही तरहा से हिन्दी लिखनी नही आती है मै क्या करू
      मात्र का मझे ज्ञान नही है

      हटाएं
  17. meri drishti se HINDI ko aur bhi VAIGYANIK bhasha banana chahiye.jaise...jitne bhi jod aakshar hai unhe SWAR athva VYANJAN ki shredi se alag hi rakha jaye taki VIDYARTHIYON ko sab SPASHT samajh aaye.

    उत्तर देंहटाएं
  18. हिंदी में लिखने के िलए आप google translitrate IME नामक साफ्टवेयर अपने कॅमप्यूटर में डाउनलोड कर सकते हैं ।यह हिंदी लिखने का बहुत आसान तरीका है।

    उत्तर देंहटाएं
  19. आज कॉन्वेंट स्कूल के छात्र हिंदी मैं गिनती नहीं जानते है यदि उनसे पूछा जाये की सिक्सटीन कितना होता है . वे नहीं बता सकते है. हमे इसी को ध्यान रखा कर हिंदी सिखानी चाहिये .

    उत्तर देंहटाएं
  20. देवनागरी वर्णमाला में ५४ अक्षर हैं. किन्तु हिंदी वर्णमाला में ५१ वर्ण या अक्षर हैं.
    हिंदी व्याकरण में वर्ण या अक्षर में अंतर नहीं किया गया है.
    हिंदी में ११ स्वर हैं ( अ.........औ ), अं, अ: २ अयोगवाह हैं. ये व्यंजन हैं.
    अं का प्रयोग संयत, संस्कार में देखा जा सकता है.
    ड़ और ढ़ को लेकर २७ व्यंजन है. ४ अन्तस्थ और ४ उष्म वर्ण है(य .......ह )
    ३ संयुक्त व्यंजन (क्ष ....ज्ञ )

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. Sir, Aapane sahi kaha hai. varnamala ke aadhar tantra aur mantra - sashtra haiM. Uske kul sakya 54 hai. Is sandarbha men Sir Havlovk Ellis ki pustak " Garland of Letters" ko parheM.

      हटाएं
  21. देवनागरी वर्णमाला में ५४ अक्षर हैं. किन्तु हिंदी वर्णमाला में ५१ वर्ण या अक्षर हैं.
    हिंदी व्याकरण में वर्ण या अक्षर में अंतर नहीं किया गया है.
    हिंदी में ११ स्वर हैं ( अ.........औ ), अं, अ: २ अयोगवाह हैं. ये व्यंजन हैं.
    अं का प्रयोग संयत, संस्कार में देखा जा सकता है.
    ड़ और ढ़ को लेकर २७ व्यंजन है. ४ अन्तस्थ और ४ उष्म वर्ण है(य .......ह )
    ३ संयुक्त व्यंजन (क्ष ....ज्ञ )

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. संयुक्त व्यंजन

      हटाएं
    2. संयुक्त व्यंजन 4 होते हैं श्रीमान आप श्र भूल गए

      हटाएं
  22. Sir aapka pryas bahut acha hai.
    hum pahli bar aapke side ko visit kar rahe ahi.
    or hum compdition ke tyare kar rahe hai
    please marg darsan kare....




    thanks
    RISHABH PANT

    उत्तर देंहटाएं
  23. varnmala ke do akshar kahan se aye dha ke neeche aur ada ke neeche bindi?

    उत्तर देंहटाएं
  24. संस्कृत में स्वर की संख्या 13 , हिन्दी में 11 है ।
    व्यंजन की संख्या दोनो ही भाषाओं में 33-33 है ।
    दोनों ही भाषाओं में एक अनुस्वार (अं =अंगुली )
    एवं एक विसर्ग ( : ) है ।
    हिन्दी व संस्कृत दोनों में ड्, ञ्, ण्, न्, म्
    का प्रयोग अनुस्वार के रूप में भी होता है । 'कंचन'
    को संस्कृत में 'कञ्चन','पंच' को 'पञ्च'ही लिखना
    चाहिए। सास्कृत में 'ड़' एवं 'ढ़' का प्रयोग नहीं होता
    'क्रीडा' शब्द शुद्ध है जबकि 'क्रीड़ा' अशुद्ध.....

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. ‘अं’ का उपयोग करते समय चंद्रबिन्दु लगाते हैं तब उसका उच्चारण् उस शब्द के साथ होता है जिसपर वह लगा होता है। ‘कंगन’ में चंद्रबिन्दु नहीं है अतः नासिका से उच्चारण ‘क’ के बाद होता है। इसलिये कवर्ग के अंतिम अक्षर व्यंजन को आधा लिखा जाता है। ‘बंधन’ शब्द में भी चंद्रबिन्दु नहीं है इसलिये पवर्ग के अंतिम व्यंजन ‘न’ को आधा लिखा जाता है याने ‘बन्धन’।
      भूपेन्द्र कुमार दवे,
      Executive Director (Retd.)
      43, Sahakar Nagar, Rampur, Jabalpur, Madhya Pradesh

      हटाएं
  25. 'क्ष', 'त्र' एवं 'ज्ञ' चुकी संयुक्त व्यंजन है अत: इन्हें
    वर्णमाला में तो सम्मिलित किया जता है किन्तु
    इनकी गणना नहीं की जाती, इनकी बनावट है : --
    क्ष = क् + ष् ,
    त्र = त् + र् ,
    ज्ञ = ज् + ञ्
    वर्ण माला का क्रम ज्ञात करने का सरल सूत्र है : --
    "कचट तपय"





    उत्तर देंहटाएं
  26. अन्य भाषाओं की तुलना में हिंदी भाषा के व्याकरण में किंचित अतिरिरिक्त विषय-वस्तु विषज्जित है जैसे कि रस, अलंकार, संधि । रस एवं अलंकार के प्रयोग से लेखन में एक अद्भुत चमत्कार कि अनुभूति होती है । संधि प्रयुक्त करने से शब्दों के गागर में अर्थों का सागर समाहित हो सकता है.....
    उदाहरण के लिए : --

    दुचंदु चित अरु दुभाखें दुइ रसन रेतस रूप ।
    दुइ बरन सिरु रुधिर राखें नेता बन भुवन भूप ।।

    दुचंदु = दुगना
    दुचित = एक ही बात पर चित न ठहराना
    दुभाखे = दो बोल
    दुरसन = दोजिव्हा युक्त, सर्प
    दुइ रेतस = निकृष्ट पशु, गधा,खच्चर
    दुइ रूप = वास्तविक एवं छद्म ये दो रूप में रहना,लिखना, बोलना
    दुइबरन = दो वर्ण

    उत्तर देंहटाएं
  27. हिन्‍दी वर्णमाला के जनक कौन हैंा
    उत्‍तर दो
    anandshravan1@hotmail.com
    kumarshravan704@yahoo.com

    उत्तर देंहटाएं
  28. >> संधि का अर्थ होता है -- मेल या मिलन
    जब दो 'शब्द' (वर्ण नहीं) परस्पर संधान करते हुवे एक नए शब्द की व्युत्पत्ति
    करते हैं जिनके निकटतम वर्णों में मेल हो अर्थात प्रथम शब्द का अंतिम वर्ण एवं अंतिम शब्द का प्रथम वर्ण के मेल से जो परिवर्तन होता है उसे संधि कहते हैं
    जैसे हिम+ आलय = हिमालय

    उत्तर देंहटाएं
  29. kya yar kuch bhi bole jate ho
    yaha hindi sikhaya jata hai ya confuse kiya jata hai

    उत्तर देंहटाएं
  30. सन्धि में दो वर्णो का मेल होता है। शब्‍दों का नही।

    उत्तर देंहटाएं
  31. priy mitron ! hindi varn-mala aadi ke baare me bahut saari bhrantiya isliye hain kyunki hum log apni-apni drishti se use samjhne ka prayas karte hain. Main is madhyam par pahli baar aaya hun
    aur mujhe yahan hindi me likhane ke liye tool ki jankari bhi nahin hai , Aap longon se dhire- dhire
    sikh lunga. barah-haal agle maah meri pustak " Nimadi ka Bhasha-Vigyan Varn aur vartani" prakashit ho rahi hai. Yadyapi granth Lok-Bhasha par kendrit hai, tathapi usme is vishay par jankari mil jayegi. .. Mani Mohan Chourey,'Nimadi'

    उत्तर देंहटाएं

  32. Writing/teaching Hindi in Easy Regional Script or Roman script.

    Namaste,

    Why not write/teach Hindi if imposed upon in India’s simplest Nukta and Shirorekha free Gujanagari(Gujarati) Script? If Hindi can be written in Urdu or in Roman script then why it can’t be done in any easy regional script?

    All languages derived from Brahmi are equal in the eyes of Indian people.However as per Google transliteration, a Gujanagari seems to be India’s simplest script next to Roman script resembling old Brahmi Script.

    In order to maintain two languages script per state, People may learn Hindi in their state language script through script converter or in Roman script.

    Most who try to promote Rajbhasha Hindi in other states know English very well but try to deprive others from learning English and don’t provide general knowledge through wiki projects via translation /transliteration in Hindi. These are the same Sanskrit pundits who deprived common people from learning holy Devanagari script and literature for years.

    Most Hindi states students get their education in two scripts while regional states students are given education in three scripts.Why?

    Why can’t regional states students learn Hindi in India’s simplest Nuktaa and Shirorekhaa free Gujarati script or in their state scripts ?

    See how many Devanagari scripted languages are disappearing under the influence of Urdu and Hindi being sister languages.

    Why not preserve regional language script by writing /learning Hindi in regional script using Hindi grammar and regional words.

    India needs Indian-ized Hindi than Sanskritized one.

    In internet age all Indian languages can be learned in India's simplest nukta and shirorekha free Gujanagari script or in our chosen script through script converter.

    Since Hamaari Boli /Hindustani doesn’t have it’s own script , it can be written in any easy script? See how easy it is to learn/write Gujanagari letters through English letters

    ડ/ટ…………….ક (k),ફ(F), ડ (d) , ઠ (th), હ (h), ટ (T), ઢ(dh), થ(th) પ(P), ય(Y) , ખ(kh), ષ(sh)

    R/2……… ….. ર(R), ચ (ch),સ(S), શ(sh), અ(A)

    C/4…………….ગ (g), ભ (bh),ઝ (Z), જ (J) ણ(N), બ(bh) લ(L), વ(V)

    દ …………..દ(D),ઘ(dh),ઘ(gh),ઈ(ee,ii), ઈ(I,i), છ (chh)

    m………………મ(M)

    n……………….ન (n,N),ત(T,t)

    U………………ળ(r,l

    India needs simple script but Let the people of India decide what’s good for them.

    Are there nuktaa in Sanskrit Script?

    http://www.omniglot.com/writing/sanskrit.htm

    See the Loan words in Hindi from Persian and Arabic.

    http://www.omniglot.com/writing/hindi.htm

    India’s simplest script.

    http://www.omniglot.com/writing/gujarati.htm

    Prefered Roman scheme:
    ્,ા,િ,ી,ુ,ૂ,ૅ,ે,ૈ,ૉ,ો,ૌ,ં,ઃ
    a,aa,i,ii,u,uu,ă,e,ai,ŏ,o,au,am,an,ah

    http://iastphoneticenglishalphabet.wordpress.com/
    saralhindi.wordpress.com

    Thanks,
    Ken 

    उत्तर देंहटाएं
  33. डा खगेन शर्मा12 अक्तूबर 2014 को 6:00 am

    देवनागरि में बडो भाषा( असम में) भी लिखा जाता है,

    उत्तर देंहटाएं
  34. Hundi ke sabd jaise vah ,yah .main, eska, uska, e.t.c.ka sanskrit me arth bataiye.

    उत्तर देंहटाएं
  35. हिन्दी वर्णमाला का अंग है मात्रा | जिस तरह ई, उ, ऊ, कहते हैं, पैर में र (क्रियाकलाप) व ऊपर वाले र (कार्य) को क्या कहते हैं?
    you can write me on ashifanaa4u@gmail.com

    उत्तर देंहटाएं
  36. सुप्रभात !
    मैं जानना चाहती हूँ कि संयुक्त अक्षर और संयुक्त व्यंजन में क्या अंतर है |

    उत्तर देंहटाएं
  37. hindi shbdkosh ka chapter kaha se mil skta hai ...... plzzz tell me

    उत्तर देंहटाएं
  38. किन श्रीमान ने सर्वप्रथम देवनागरी लिपि ( अ से ज्ञ तक ) के अक्षरो का निर्माण किया

    उत्तर देंहटाएं
  39. Please tell me about sparsh vyanjan which type of vyanjan these are?

    उत्तर देंहटाएं
  40. हिंदीप्रेमी भाई-बहनों की रूचि को प्रणाम करता हूँ.
    आगे के आलेखों में व्याकरण को तो अच्छे से समझाने का प्रयास किया गया है, परंतु शुरूआत में, वर्णमाला से लेकर भाषा और लिपि तक कुछ भ्रांतियाँ रह गई हैं. उन्हें पुनः तथा ठीक से समझने-समझाने की आवश्यकता है. यदि आप, गुणी पाठक शुद्ध मन से एवं बिना किसी पूर्वाग्रह के, जानकारी प्राप्त करने में रूचि रखते हों तो, अपने वर्तमान प्रवास से मुक्त होते ही मैं सेवा में उपस्थित हो जाऊँगा.

    उत्तर देंहटाएं
  41. नीतू जी, 100% सही है ।
    हिंदी में 11 +33,=44ही है

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और सबल प्रदान करती हैं, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !
टिप्पणी के सामान्य नियम -
१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें .
२. किसी की भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें .
३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .

 
Top