0
अपना अपरिचित चेहरा
अपना अपरिचित चेहरा

अपना अपरिचित चेहरा सुना है तुम्हें नाज है। अपनें शीशे पर, जिसको लटका रखे हो धर्म की खुंटी पर। जिसमें देख-देख कर मुस्कुराते रहते हो, ...

और जानिएं »

0
डर लग जाता है
डर लग जाता है

डर लग जाता है कुछ नही लगता है। बस डर लग जाता है। कल कहां तुम चले जाओगे। इन आंखों की खामोशी रह जायेगी, हमारे वक्त की शादगी रह जायेगी, ...

और जानिएं »

0
मैं रावण
मैं रावण

मैं रावण  मैं रावण  अहंकारी, व्यभिचारी।  लोक कंटक, दुराचारी।  त्रैलोक्य स्वामी।  पतित पथ अनुगामी  प्रसन्न हूँ ।  तुम्हार...

और जानिएं »

0
Happy Dussehra 2018
Happy Dussehra 2018

दशहरे की शुभकामनाएं हिंदीकुंज के पाठकों को दशहरे की शुभकामनाएं श्रीराम दशहरे की हार्दिक शुभकामनाएं।दशहरे की शुभकामनाएं Happy Dusse...

और जानिएं »

0
लिफ़्ट लेने का खेल
लिफ़्ट लेने का खेल

लिफ़्ट लेने का खेल पेट्रोल-मापक पर लगी सुई अचानक टंकी ख़ाली होने की सूचना देने लगी और स्पोर्ट्स-कार के युवा चालक ने घोषणा की कि यह पाग...

और जानिएं »

0
मुक्ति की आकांक्षा
मुक्ति की आकांक्षा

मुक्ति की आकांक्षा चिड़िया को लाख समझाओ कि पिंजड़े के बाहर धरती बहुत बड़ी है, निर्मम है, वहॉं हवा में उन्‍हें अपने जिस्‍म की गंध ...

और जानिएं »

0
इंदिरा गांधी पर निबंध
इंदिरा गांधी पर निबंध

इन्दिरा प्रियदर्शिनी गाँधी  इंदिरा गांधी पर निबंध इंदिरा गांधी पर निबंध Indira Gandhi Essay on Indira Gandhi in Hindi Indira Gandhi Ja...

और जानिएं »

0
समय कहानी यशपाल
समय कहानी यशपाल

समय कहानी यशपाल  समय कहानी यशपाल जी द्वारा लिखी गयी है .समय कहानी की कथावस्तु एक ऐसे व्यक्ति पापा से जुड़ा है जो अपनी नौकरी से अवकाश प्...

और जानिएं »

1
हमारी सोच
हमारी सोच

हमारी सोच हमारी सोच बीता हुआ समय हमें बहुत कुछ सिखा जाता है।कुछ ऐसे दृश्य होते हैं, जो चाहकर भी भुलाए नहीं जा सकते जिन्दगी की इस भागमभ...

और जानिएं »
 
 
Top