0
 लौट आऊँगा मैं
लौट आऊँगा मैं

 1. लौट आऊँगा मैं क़लम में रोशनाई-सा पृथ्वी पर अन्न के दाने-सा कोख मेंजीवन के बीज-सा लौट आऊँ...

और जानिएं »

0
जिद्द बच्ची की
जिद्द बच्ची की

जिद्द बच्ची की   बच्ची दौड़कर अपने पापा से लिपट गई I मुँह मुरझाया सा लेकर I   "पप्पा मुझे व...

और जानिएं »

2
भुल्लकड़ बेटा
भुल्लकड़ बेटा

भुल्लकड़ बेटा अश्विन गुप्ता वृद्धाश्रम में टेबल पर बैठ वो माँ चुपचाप खाना खाये जा रही थी । ...

और जानिएं »

1
अलार्म
अलार्म

अलार्म     दिन ठण्डा था। चार-पाँच महिलाएँ शर्मा जी की बैठक में बैठकर गपशप कर रही थीं। कुछ देर बा...

और जानिएं »

0
साहब ये सत्ता है
साहब ये सत्ता है

 साहब ये सत्ता है साहब ये सत्ता है अनुभव की स्याही से वक्त के पन्ने पर  कितना कुछ लिखते हैं हम ...

और जानिएं »

0
सब के लिए
सब के लिए

   सब के लिए बात इतनी पुरानी है कि वे शब्द , जो उसे बयान कर सकते , अब हर भाषा के शब्द-कोष से खो ...

और जानिएं »
 
 
Top