1
कुछ बातें
कुछ बातें

कुछ बातें कुछ बातें चुभती है, कुछ बातें रूठती है। कुछ बातें यादें है, कुछ बातें कुछ बातें भूल है। कुछ बातें हंसाती है, कुछ बाते...

और जानिएं »

0
कहां हो तुम?
कहां हो तुम?

कहां हो तुम? मैं कुछ कहने जा रहा हूं, कहां हो तुम? यही मेरे ईर्द-गिर्द हो, या फिर कहीं और हो तुम। सच है मैनें अभी तक, कुछ कहा नही...

और जानिएं »

2
कविता
कविता

कविता  निराश, दु:खी , हताश कवि जब बाट जो रहा था भावों की तभी मुस्कुराती हुई पलके झपकती हुई चंचल मन सी कविता आई हवाओं सी पूछ ...

और जानिएं »

0
वो बेवफा है
वो बेवफा है

वो बेवफा है बैठे हैं सागर के किनारे ,लटके इंतज़ार में . लूट गया मैं तो यारों ,उसे बेवफा के प्यार में .. ऐ चलती हुई पुरवाई ये पैगाम त...

और जानिएं »

0
ठग्स ऑफ हिंदोस्तान Thugs of Hindostan
ठग्स ऑफ हिंदोस्तान Thugs of Hindostan

ठग्स ऑफ हिंदोस्तान Thugs of Hindostan   ठग्स ऑफ हिंदोस्तान Thugs of Hindostan  - हाल ही में एक फिल्म रिलिज हुई है 'ठग्स ऑफ हिंद...

और जानिएं »

0
मैं तोता मैं तोता हरे रंग का तोता
मैं तोता मैं तोता हरे रंग का तोता

मैं तोता मैं तोता हरे रंग का तोता प्यारा प्यारा होता है हरे रंग  का  होता  है लाल टमाटर खाता है टें  टें  टें  टें  करता  है। त...

और जानिएं »

0
ज़िन्दगी एक किताब है
ज़िन्दगी एक किताब है

ज़िन्दगी एक किताब है ज़िन्दगी एक किताब है , जो हर दिन एक नया पन्ना खोलती है भाग दौड़ है और फुर्सत नहीं, पर हर दिन एक नया रंग घोलती ...

और जानिएं »

0
वो पुष्प पारिजात के
वो पुष्प पारिजात के

वो पुष्प पारिजात के  तूने ये हरसिंगार हिलाकर बुरा किया पांवों की सब जमीन को फूलों से ढंक लिया "  आज "दुष्यंत जी की ये ...

और जानिएं »

2
इश्क की राह
इश्क की राह

इश्क की राह  इश्क की राह पर हम कुछ कदम ही चले थे, जख्म हरे थे और घाव बड़े  गहरे थे I टूटा हुआ दिल लेकर मैं, अनजानी राह पर चल पड़ा था,...

और जानिएं »
 
 
Top